जेपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के सफल आयोजन को लेकर उपायुक्त ने की दंडाधिकारियों सहित बैठक

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। आगामी 19 सितंबर को होने वाले झारखंड संयुक्त असैनिक सेवा (जेपीएससी) की प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा 2021 के सफल आयोजन को लेकर जिला सभागार में उपायुक्त -सह- जिला दण्डाधिकारी अरवा राजकमल की अध्यक्षता में सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों के साथ गुरुवार को एक बैठक हुई। उपायुक्त ने परीक्षा के सफल आयोजन को लेकर परीक्षा केंद्र पर किए गए तैयारियों की समीक्षा करते हुए एक अच्छे वातावरण में कदाचार मुक्त परीक्षा सम्पन्न कराने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा परीक्षा का सफल आयोजन केन्द्राधीक्षकों की सजगता पर निर्भर करेगा। उन्होने बताया कि 24×7 जिला स्तरीय कंट्रोल रूम कार्यरत रहेगा साथ ही किसी भी तरह की समस्या आने पर वे उच्चाधिकारियों से भी तत्काल संपर्क कर सकते हैं। परीक्षा से सम्बंधित किसी समस्या समाधान हेतु चर्चा करनी हो तो वह व्हाट्सअप ग्रुप में या उप विकास आयुक्त के साथ सम्पर्क स्थापित कर सकते है। बेंच-डेस्क की व्यवस्था सुनिश्चित करने, दिव्यांग अभ्यर्थियों जिसे चलने फिरने में दिक्कत है उनके लिए रैम्प, प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग करने, सीटिंग अरेंजमेंट का चार्ट चिपकाने तथा परीक्षार्थियों के लिए पंखा, पेयजल, शौचालय, साफ सफाई की व्यवस्था, महिला-पुरुष शौचालय की अलग अलग व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। उपायुक्त ने कहा आयोग द्वारा जारी गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए केंद्र पर अनुशासित तरीके से कार्य करें। केंद्र में परीक्षार्थियों को ससमय पेपर वितरण एवं कलेक्टिंग हो यह सुनिश्चित करेंगे। परीक्षा केंद्र के अंदर किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स जैसे मोबाइल, टैबलेट, ब्लूटूथ, कैलकुलेटर, इलेक्ट्रॉनिक घड़ी आदि डिजिटल उपकरण ले जाना पूर्णत: निषेध रहेगा। केंद्र के अंदर अनाधिकृत व्यक्ति का प्रवेश भी वर्जित रहेगा। बैठक में
उप विकास आयुक्त प्रवीण कुमार गागराई द्वारा बताया गया कि जिले में 22 परीक्षा केंद्रों पर 9743 परीक्षार्थी भाग लेंगे। उप विकास आयुक्त ने शिक्षकों को आयोग द्वारा जारी मार्गदर्शिका को अच्छे से अध्ययन करने को कहा। यह परीक्षा दो पाली 10: 00 AM -12:00 PM एवं दूसरा 02:00 PM- 04:00 PM बजे आयोजित है।
बैठक में ITDA निदेशक, अपर उपायुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, सभी केंद्राधीक्षक समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।