किसान क्रेडिट कार्ड के संबंध में हो रहे कार्यों की अनुमंडल पदाधिकारी ने की समीक्षा

रामगढ़: मंगलवार को अनुमंडल कार्यालय रामगढ़ के सभागार में किसान क्रेडिट कार्ड के कार्य प्रगति को लेकर बैंकर्स एवं पदाधिकारियों के साथ अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद जावेद हुसैन, रामगढ़ की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद जावेद हुसैन ने जिले के विभिन्न प्रखंडों में केसीसी आवेदन भरवाने को लेकर की जा रही कार्य प्रगति की जानकारी परियोजना निदेशक, आत्मा से ली। बैंकर्स द्वारा पूर्ण सहयोग करने एवं उनकी समस्याओं पर भी चर्चा की गई।

पंचायत एवं ग्राम स्तर पर कैंप लगाकर 31 जुलाई तक केसीसी का कार्य पूर्ण करने एवं विभिन्न प्रखंडों में बैंकों से समन्वय स्थापित करने को लेकर पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया गया। बैठक में बताया गया कि एक लाख रुपए तक के केसीसी ऋण के लिए लैंड एलपीसी की आवश्यकता नहीं है, एलपीसी के जगह पर किसानों द्वारा स्व घोषणा पत्र देना होगा जिसे ग्राम प्रधान, मुखिया के द्वारा सत्यापित किया जाना आवश्यक है।

जिला मत्स्य पदाधिकारी सह जिला गव्य पदाधिकारी मनोज ठाकुर ने बैठक में अपनी बात को रखते हुए जिले के विभिन्न बैंकों को पूर्व में भेजे गए आवेदन के बारे में विस्तार पूर्वक जानककरी दी।

जिला अग्रणी प्रबंधक (एलडीएम) ने बताया कि जो भी फॉर्म बैंक रिसीव करेंगे उसे अस्वीकृत नहीं करेंगें, उस फॉर्म को प्रखंड में होने वाले बीएलबीसी की बैठक में ले जाएंगे वही उसपर निर्णय लिया जाएगा। 19 जुलाई को 5000 से अधिक नए किसानों को केसीसी से आच्छादित किया जाएगा। सभी जरूरतमंद किसानों को एवं जिनका ऋण माफ हुआ है उनको भी केसीसी का लाभ दिया जाएगा।

डीडीएम, नाबार्ड द्वारा कहा गया कि बैंक में जो भी आवेदन आते है उन्हें पंजी में अवश्य संधारित करें।

इस अवसर पर बैठक में जिले के विभिन्न बैंकों के पदाधिकारी एवं समन्वयक उपस्थित थे।