बाजार में सार्वजनिक शौचालय नहीं, लोगों को उठानी पड़ती है परेशानी

स्थानिय लोगों ने की शौचालय व्यवस्था करने की मांग
इटखोरी(चतरा)। सरकार गांव से लेकर सभी जगहों को स्वच्छ रखने के लिए हर घर शौचालय का निर्माण कर ओडीएफ घोषित कर अपनी पीठ थपथपा रही है। वहीं दूसरी ओर इटखोरी प्रखंड मुख्यालय के साथ पितीज बाजार में आमलोगों के लिए शौचालय की व्यवस्था नहीं होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। बाजार में शौचालय और मूत्रालय की व्यवस्था नहीं रहने के कारण आमलोगों एवं स्थानीय दुकानदारों को शौच के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है। वे गली कूचों का सहारा लेते हैं, या बाजार में ही सड़क किनारे गंदगी फैलाते हैं। इस गंदगी से राहगीरों, आमलोगों व बाजार में रहने वाले लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। विशेष कर बाजार में आई महिलाओं को ज्यादा परेशानी होती है। इटखोरी व पितीज बाजार में हमेशा लोगों की भीड़ बनी रहती है। इन जगहों पर बाहर से भी लोगों का आना-जाना लगा रहता है। मुख्य बाजार में खरीदारी के लिए हमेशा लोगों की भीड़ बनी रहती है, लेकिन लोगों को शौच के लिए परेशान होना पड़ता है। इटखोरी प्रखंड मुख्यालय रहने के कारण प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग प्रखंड, अंचल, पीएचसी व थाना व बाजार पहुंचते हैं। वहीं समाजसेवी मृत्युंजय दांगी, विजय कुमार व सुधीर कुमार साव आदि ने कहा कि विभागीय पदाधिकारी व जनप्रतिनिधियों के उपेक्षा के कारण बाजार में सार्वजनिक शौचालय नहीं बन पाया है। सभी ने जिले के उपायुक्त को इस समस्या पर संज्ञान लेते हुए जल्द शौचालय बनवाने की मांग की है।