लगातार बारिश के बाद गिरे कई गरीबों के खपरैल घर, पीड़ित इधर-उधर रहने को मजबूर

कुंदा(चतरा)। जिले के अति उग्रवाद प्रभावित कुंदा प्रखंड क्षेत्र में बिते तीन दिनों के बारिश में दर्जन भर गरीबों के कच्चे खपरैल मकान गिर गए हैं। जिनका घर पूर्ण रुपेण ध्वस्त हो गया है और रहने के लायक नही है, वैसे पीड़ित पास-पड़ोस व रिस्तेदारों के घर रहने को मजबूर हैं। मिली जानकारी के अनुसार बानासाम के टोला गाड़ातोहार निवासी जनक गंझू एवं बिरजू गंझू का  घर पूर्व रुपेण क्षतिग्रस्त हो गया। इस दौरान घर में रखे राशन, कपड़ा, खटिया समेत अन्य घरेलू सामग्री भी नष्ट हो गई है। जिससे दोनो परिवारों के बीच रहने के साथ भोजन की भी समस्या उत्पन हो गई है। जनक गंझू ने संवाददाता को बताया कि सरकार द्वारा अब तक आवास भी नहीं दिया गया है एक छोटा सा घर था ओ भी बारिश से गिर गया, ऐसे में बरसात में रहने की समस्या हो रही है। दोनों परिवार के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। दोनों परिवार आवास योजना से वंचित हैं। साथ ही अन्य की भी स्थिति ठीक नही है। लेकिन अभी तक किसी प्रकार से प्रशासनिक स्तर पर राहत नही पहुंचाया गया। प्रभावितों ने प्रशासन से मुआवजे की मांग कील है।