शहीद निर्मल महतो कुड़मी भवन राखा में निर्मल महतो को दी गई श्रद्धांजलि

रामगोपाल जेना
चक्रधरपूर: आसनतलिया में शहीद निर्मल महतो के 35 वाँ शहादत दिवस के शहीद निर्मल महतो कुड़मि भवन राखा आसनतलिया में शहीद निर्मल महतो के 35 वाँ शहादत दिवस के अवसर पर एक श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई। सर्वप्रथम शहीद निर्मल महतो के चित्र पर माल्यार्पण अर्पित किया गया तत्पश्चात उनकी आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखा गया , इस अवसर पर विभिन्न वक्ताओं ने शहीद निर्मल महतो के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे एक अच्छे संगठनकर्ता थे। आजीवन उन्होंने गरीब किसानों , मजदूरो एवं छात्रों के हक के लिए लड़ाई लडी़।उनका एक ही सपना था कि एक शोषण मुक्त अलग राज्य बने। उनके बलिदान का परिणाम था कि झारखंड आंदोलन को एक नयी गति प्राप्त हुआ और सन् 2000 को झारखंड एक अलग राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। इस अवसर पर पूर्व जिला परिषद् उपाध्यक्ष श्याम सुंदर महतो ,खिरोद महतो, गणेश्वर महतो, शंकरलाल महतो, ओम प्रकाश महतो, दिनेश महतो, खगेश्वर महतो, रतनलाल महतो, दिलीप कुमार महतो, अंगद महतो, उदयभानु बंसरिआर, प्रदीप कुमार महतो, गौरीशंकर महतो, बलराज कुमार हिन्दवार ,प्रदीप कुमार महतो, करन महतो, सन्नी उराँव ,अमर बोदरा , प्रदीप कुमार महतो, बसंत कुमार महतो, सूरज कुमार महतो, संजीव कुमार महतो, खेमराज महतो, ब्रम्हाकर गोप, अजय कुमार महतो, नृपेन्द्र महतो, सुकेश कुमार महतो, गुलशन महतो, पंकज महतो, श्यामलाल महतो, दीपरंजन महतो, विनोद महतो , वीरू महतो एंव अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।