हुरलौंग में आईसा ने की युवओं के साथ बैठक, बेहतर रोजगार के लिए लड़ने का लिया गया निर्णय

लौकेश सिंह की रिपोर्ट

पांकी: पांकी के ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन आइसा ने ग्राम हुरलौंग में छात्र युवाओं का बैठक किया गया।बैठक में मुख्य रूप से आइसा के राज्य सचिव त्रिलोकी नाथ उपस्थित थे त्रिलोकी नाथ ने कहा कि आइसा और इंकलाबी नौजवान सभा ने 15 अगस्त से बेहतर शिक्षा स्वास्थ और रोजगार को लेकर राज्य स्तरीय छात्र युवाओं का अभियान चलाया जा रहा हैं जिसके तहत पांकी में 28अगस्त को छात्र युवाओं का कन्वेंशन किया जाएगा.मौक पर उपस्थित मनीष कुमार ने कहा कि मोदी सरकार ने 2 कोरोड़ रोजगार देने के नाम पर सत्ता में आई लेकिन जब से केंद्र सरकार सत्ता में आई है. तब से लगातार सरकारी संस्थानों को निजी हाथों में सौप रही हैं. रोजगार सृजन करने वाले रेलवे,बैंक एलआईसी कोयला खदानों, हवाई अड्डा सहित तमाम संस्थानों को निजी हाथों में सौंप रही है जिस से लगातार बेरोजगारों की फौज खड़ी हो रही है.जिससे युवा हताश और परेशान है, दुसरी तरफ शिक्षा और स्वास्थ्य की लचर व्यवस्था ने देश को और झकझोर दिया है गरीब छात्रों को शिक्षा से वंचित करने की नीति नई शिक्षा नीति लाकर शिक्षा को बाजारीकरण पर जोर दिया है जिससे गरीब छात्रों को पढ़ना मुश्किल होगा। उच्च शिक्षा में लगातार छात्रवृत्ति कटौती की जा रही है जिससे गरीब छात्रों को पढ़ना मुश्किल हो रहा हैं। छात्र युवाओं को राज्य सरकार ने भी रोजगर शिक्षा और स्वस्थ्य को बेहतर करने की बात कही थीं परंतु राज्य सरकार भी अपनी वादा को भुल भुल गई।
मोदी हेमंत की जोडी ने लागातार मजदूर किसान छात्र महिलाएं सड़कों पर हैं और सरकार तानाशाही रेवैया अपनाई हुई हैं।
मौके पर उपस्थित छात्र छात्राएं सोनू कुमार,अभिषेक कुमार, विक्रम,कुंजन,मिथले, रिंकू कुमार,अमित,मिठू सहित अन्य लोग उपस्थित थे।