हथियारबंद लोगों ने बंद कराया सोनुआ-गुदड़ी सड़क का निर्माण कार्य , मोबाइल और वाहनों की चाबी ले गए

नक्सली या अपराधी जांच जारी, वन विभाग से एनओसी मिलने के बाद करीब 15 दिन पहले ही शुरू हुआ है सड़क का निर्माण कार्य.
रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर : एक वर्ष तक निर्माण कार्य बंद होने के बाद वन विभाग से एनओसी मिलने के बाद विगत करीब 15 दिनों से जिले की महत्वपूर्ण सड़क निर्माण योजनाओं में एक सोनुआ-गुदड़ी मुख्य सड़क का निर्माण कार्य शुरू हुआ था. लेकिन शुक्रवार को दोपहर के समय 8 से 10 की संख्या में पहुंचे हथियारबंद लोगों ने इस सड़क का निर्माण कार्य बंद करा दिया. दूसरी ओर पुलिस ने सड़क निर्माण कार्य को सुरक्षा देने का भरोसा दिया है. इस सड़क का निर्माण कार्य टीईपीएल कंपनी करा रही है. घटना के बाद से कर्मचारियों में दहशत का माहौल है. कर्मचारी सड़क निर्माण स्थल छोड़कर चले गए हैं. मौके पर पुलिस पहुंच चुकी है.

8 से 10 की संख्या में थे हथियारबंद

जानकारी के मुताबिक सोनुआ-गुदड़ी मुख्य सड़क के पनसुआं डैम घाटी में सड़क निर्माण का काम चल रहा था. इस दौरान दोपहर के समय यहां करीब 8 से 10 की संख्या में हथियारबंद लोग पहुंचे और काम बंद करने को कहा. हथियारबंद लोगों ने सभी वाहनों की चाभी और वाहन चालकों के मोबाइल भी ले लिए. इसके बाद वे वहां से चले गये.

सड़क निर्माण कार्य नहीं रुकेगा: एसडीपीओ

घटना की सूचना मिलने के बाद सोनुआ थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी ली. काम बंद कराने पहुंचे लोग नक्सली संगठन से थे या कोई लोकल अपराधी ग्रुप के सदस्य थे यह स्पष्ट नहीं है. लेकिन यह क्षेत्र उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र होने से यह नक्सल सम्बन्धी मामला भी हो सकता है. इस मामले में पूछे जाने पर सहायक पुलिस अधीक्षक सह एसडीपीओ नाथू सिंह मीणा ने बताया कि इस घटना के पीछे स्थानीय आपराधिक ग्रुप का हाथ होने की सम्भावना है. सड़क निर्माण का कार्य नहीं रुकेगा. पुलिस सड़क निर्माण कार्य में सुरक्षा देगी.