गरीबों के राशन पर डीलरों का डाका

– लापरवाह अधिकारियों के कारण लाभुकों की हो रही हकमारी
– गोदाम से तीन माह में 6 बार खाद्यान्न उठाव के बावजूद कार्डधारियों को मिला तीन बार राशन
विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : ठाकुरगंगटी प्रखंड में आपूर्ति विभाग के सुस्त रवैया के कारण जन वितरण प्रणाली के कई दुकानदार गरीबों का राशन कालाबाजारी कर मालामाल हो रहे हैं। अधिकारियों की मिलीभगत से गरीबों को मिलने वाले राशन पर डाका डाला जा रहा है।
प्रखंड के विभिन्न पंचायत से लगातार इस तरह का मामला प्रकाश में आता रहा है। पदाधिकारी कार्यवाही भी कर रहे हैं, बावजूद कोई सुधार नहीं हो पा रहा है। ताजा मामला ठाकुरगंगटी प्रखंड कार्यालय से महज एक किलोमीटर की दूरी पर संचालित जन वितरण प्रणाली के डीलर अजीत झा के नए कारनामे से राशन कार्डधारी बेहद परेशान हैं। राशन डीलर की मनमानी से परेशान होकर रंगीला आदिवासी गांव के तीन दर्जन से अधिक कार्डधारियों ने डीलर के खिलाफ विरोध जताया। साथ ही डीलर पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार कोरोना काल में प्रत्येक माह एक बार फ्री, एक बार पैसे से खाद्यान्न राशनकार्ड धारियों को मुहैया करा रही है। लेकिन इसी का गलत फायदा उठाकर डीलर मालामाल हो रहे हैं। जबकि डीलर के द्वारा बीते मई, जून,जुलाई माह में नियमित तीन माह में 6 बार गोदाम से खाद्यान्न का उठाव किया गया है। इसके बावजूद सभी राशन कार्ड धारियों के राशन कार्ड पर गलत तरीके से राशन चढ़ा दिया गया है। प्रत्येक माह में एक बार करके ही राशन दिया गया है। कार्ड धारियों ने आरोप लगाया है कि डीलर के द्वारा राशन वितरण के समय कार्ड धारियों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता है। डीलर के दुकान का कई चक्कर लगाना पड़ता है। आक्रोशित कार्ड धारियों ने डीलर के विरुद्ध उचित कार्रवाई की मांग की है ।साथ ही जितना राशन बीते 3 माह में कालाबाजारी की गई है सभी राशन वितरण करने का मांग किया है ।अन्यथा वरीय अधिकारियों का दरवाजा खटखटाने की भी बात कही है।

इस संबंध में प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी विकास रोबोट सोरेन ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है प्रथम दृश्यता डीलर की बड़ी अनियमितता प्रतीत हो रही है इसकी जांच कार्डधारी का गांव जाकर किया जाएगा अगर डीलर के द्वारा इस तरह की अनियमितता बरती गई है तो विभागीय कार्रवाई से कोई बचा नहीं सकता साथ ही जितना खाद्यान्न कालाबाजारी की गई है किसी भी हालत में उस खाद्यान्न को कार्ड धारियों के बीच डीलर के द्वारा बांटना होगा। इस मामले का जानकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी राजीव कुमार को भी दी गई है।