निरीक्षण के क्रम में डीसी ने काम में लापरवाही देख पंचायत व रोजगार सेवक का वेतन काटने का दिया निर्देश

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने गुरुवार को नावाडीह प्रखंड क्षेत्र का दौरा किया। उनके साथ उप विकास आयुक्त जय किशोर प्रसाद थे। उपायुक्त ने दौरा क्रम में महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गरांटी योजना (मनरेगा) के तहत संचालित योजनाओं की जानकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी संजय शांडिल्य से ली। इस क्रम में पाया कि भेंडरा पंचायत का मास्टर रोल आज शून्य है। इस पर नाराजगी जताते हुए उपायुक्त ने उप विकास आयुक्त को संबंधित पंचायत के पंचायत सेवक एवं रोजगार सेवक का एक दिन का मानदेय काटने का निर्देश दिया। साथ ही प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी (बीपीओ) से स्पष्टीकरण पूछने को कहा। उन्होंने बीडीओ को मनरेगा में लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने को कहा।साथ ही कहा कि कार्य में किसी भी तरह की कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

जलापूर्ति योजना के कार्य में लाएं तेजी

उपायुक्त ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कनीय अभियंता से संचालित जलापूर्ति योजना के संबंध में जानकारी प्राप्त की, कार्य में तेजी लाने को कहा। वहीं, बीडीओ को प्रखंड सह अंचल कार्यालय के लिए चार एकड़ भूमि चिन्हित कर जिला को प्रस्ताव भेजने को कहा। उन्होंने अंचलाधिकारी सह सीडीपीओ अशोक कुमार से प्रखंड में संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों की जानकारी ली। निर्माणाधीन केंद्रों व कार्यरत एजेंसी के संबंध में पूछा और जरूरी निर्देश दिया। प्रखंड गोदाम की पहुंच पथ नहीं होने पर डीडीसी को सड़क निर्माण के लिए कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

सीएचसी केंद्र का भी किया निरीक्षण

उपायुक्त ने नावाडीह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का भी निरीक्षण किया। उनके द्वारा प्रखंड चिकित्सा प्रभारी पदाधिकारी से कोविड 19 को लेकर की गई तैयारी के संबंध में जानकारी ली। सेंटर पर ट्रू नेट मशीन से सैंपल जांच में सुस्ती पाया गया। उन्होंने इस बाबत रजिस्टर मेनटेंन नहीं करने पर भी चिकित्सा पदाधिकारी पर नाराजगी जताई। कहा कि इसे अविलंब सुनिश्चित करते हुए अपडेट करें। अस्पताल परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे को भी दुरूस्त कराने का निर्देश दिया।

आइटीआइ के लिए चिन्हित भूमि का किया निरीक्षण

उपायुक्त ने प्रखंड के चीरूडीह पंचायत स्थित आइटीआइ भवन निर्माण के लिए चिन्हित स्थान का निरीक्षण किया। अंचलाधिकारी से उपलब्ध भूमि की जानकारी ली। पाया कि उक्त भूमि तक पहुंचने के लिए सम्पर्क पथ निर्माण में कुछ रैयतों की भूमि है। इस पर उपायुक्त ने संबंधित रैयतों से बात करने के लिए अंचलाधिकारी अशोक कुमार को निर्देश दिया। साथ ही, पूरे चिन्हित भूमि का विस्तृत नक्शा बनाने निर्देश दिया।