जलशक्ति एवम खाद्य प्रसंस्करण मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल खूंटी में मिले पद्मभूषण सम्मानित कड़िया मुण्डा से

खूंटी : कड़िया जी का दर्शन होना और उनका आशीर्वाद प्राप्त करना महत्वपूर्ण कालखंड है। झारखंड के दो दिवसीय दौरे में क्या किया तो मैं कहूंगा राजनीतिक भगवान से दर्शन हो गया। उक्त बातें केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जलशक्ति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने कड़िया मुंडा के प्रांगण में कही। शुक्रवार देर शाम प्रह्लाद और सांसद महेश पोद्दार पद्मभूषण से सम्मानित कड़िया मुंडा से मिलने उनके निवास स्थान अनिगड़ा पहुंचे थे।
पद्मभूषण से सम्मानित कड़िया मुंडा के घर पहुंचते ही केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद और संसद महेश पोद्दार कड़िया जी का पैर छू कर आशीर्वाद लिया और शॉल देकर सम्मानित किया। एक घन्टे उनके निवास स्थान पर रुके और पुरानी बातों पर चर्चा करते हुए कड़िया और प्रह्लाद ठहाके मारकर हँसते दिखे। केंदीय मंत्री प्रह्लाद ने मीडियाकर्मियों से बातचीत की और बताया कि जब मैं अटल जी के कार्यकाल में राज्य मंत्री था तब वो केबिनेट मंत्री थे। इससे कही ज्यादा संसदीय जीवन मे जो मार्गदर्शन मिलता है जो वैचारिक निष्ठा के प्रति हमारी दृढ़ता है उसमें मैं कहूँ प्यारे लाल जी हो, डॉक्टर साहब हो या मुंडा जी हो ये ऐसे लोग है जो जिनके कारण हम राजनीति में अडिग होकर चल पा रहे है। तीन साल के बाद कड़िया जी का दर्शन कर पाया लेकिन मेरे मन मे था कड़िया जी से मिलु और अपना लक्ष्य पूरा किया। अगर कोई मुझसे पूछे कि दो दिनों के झारखंड प्रवास में में क्या पाया मैं यही कहूंगा कि राजनीतिक भगवान के दर्शन हो गए।