वाह रे कलयुगी बेटा! पुलिस ने फोन कर कहा, पिता का शव आकर ले जायें, बेटा ने कहा- दुकान छोड़कर कैसे आए

रांची: कहतें हैं जिस बेटे को बाप ने पाल पोस कर बढ़ा किया, जिसके के लिए सारे जमाने की ठोकरें खाकर उसे पढ़ाया लिखाया, आज वही बेटा अंतिम समय में अपने पिता का शव लेने के लिए भी समय नहीं है। मामला रांची जिले के लोअर बाजार थाना क्षेत्र के खादगढ़ा बस स्टैंड स्थित एक लावारिश शव बरामद किया गया । घंटो मशक्कत के बाद खादगढ़ा बस स्टैंड टीओपी प्रभारी विकास आर्यन ने मृतक के परिजन को खोज निकाले। फिर परिवार को सूचना दी , लेकिन घंटों इंतजार करने के बाद मृतक के परिजन शव लेने नहीं पहुंचे थे। टीओपी प्रभारी विकास ने बताया कि मृतक की पहचान शंभू के रूप में हुई है और वह पहले बस चालक था। हाल के दिनों में चुलैया शराब पीने लगा था।वहीं नशे की हालत में ही बस स्टैंड के खुले आसमान के नीचे सो गया और ठंड लगने के कारण ही उसकी मौत हो गई। उसके बेटा गोलू जो पिस्का मोड़ के आसपास कहीं पर रहता है, उसे मृतक पिता की सूचना दी गई । लेकिन बेटा आने से इंकार करते हुए कहा कि वे अभी दुकान पर बैठा हैं इसलिए नहीं आ सकते। विकास ने बताया कि डांटे तब वो आने की बात कही। हालांकि पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर मृतक का बेटा गोलू, मृतक पत्नी को शव सौंप दिया गया। मृतक के पत्नी ने पुलिस को बताया कि शंभू शराब पीने का आदि हो गया था। घर में लड़ाई-झगड़ा करता था। इस लिए वे घर नहीं आते थे और बस स्टैंड में ही रहते थे।