14 नवम्बर तक बिहार के तर्ज पर नियमावली पास नहीं हुई तो 15 नवम्बर को रांची कूच करेंगे पारा शिक्षक

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा बरही में किया बैठक

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : बरही पार्क में रविवार को एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा बरही इकाई की बैठक हुई। अध्यक्षता प्रखंड सचिव मनोज घोष व संचालन दीपक यादव ने किया। बैठक मुख्य अतिथि प्रदेश के संजय कुमार दुबे की उपस्थिति में किया गया। जिसमें सर्वस्ममति से निर्णय लिया गया की सरकार यदि प्रस्तावित बिहार मॉडल नियमावली 14 नवंबर तक कैबिनेट से पास कर घोषणा नहीं करती है तो राज्य कमिटी के निर्णयनुसार 15 नवंबर को बरही प्रखंड के तमाम पारा शिक्षक रांची जायेंगे और वर्तमान राज्य सरकार का विरोध करेंगे। संजय कुमार दुबे ने कहा कि अभिलंब झारखंड सरकार बिहार के तर्ज पर नियमावाली को पास करा कर दीपावली का तोहफा देने का काम करें अब तक यदि कल्याण कोष पारित हो गया होता तो जो भी शिक्षक काल के गाल में समा रहे हैं कम से कम उनका फायदा उन्हें मिलता। परंतु सरकार कल्याण कोष भी अभी तक नहीं बना पाई। प्रखंड सचिव मनोज घोष ने कहा कि अभिलंब सरकार पारा शिक्षकों को वेतनमान देने का कार्य करें ताकि सभी का भविष्य उज्जवल हो सके। अनिल केशरी ने कहा कि राज्य सरकार अब गुमराह करना व समय देना बंद करे, क्योंकि पारा शिक्षकों में आक्रोश पनप रहा है। बैठक के पश्चात स्वर्गीय पारा शिक्षक बंसी साव व सेवा निवृत शिक्षिका मीना देवी के प्रति दो मिनट का मौन धारण रख कर शोक संवेदना व्यक्त किया गया। बैठक में मनोज कुमार घोष कोषाध्यक्ष मो. सनोवर, दीपक यादव, महेश यादव, संतोष यादव, सुरेंद्र यादव, प्रेम कुमार, मो कलीमुद्दीन, अशोक पंडित, नंदकिशोर पांडे, मनोज ठाकुर, सुनील यादव, दिनेश यादव, अनिल केशरी, रामेश्वर रविदास, चंद्रकांत अकेला, तूफेल आजाद, सुरेश ठाकुर, दशरथ यादव, संतोष कुमार भुइयां, प्रेम लाल यादव, लालू उरांव, ईश्वर यादव, रवीना खातून, ललिता कुमारी, पुष्पा कुमारी, संजू देवी, लालमणि सिंह, हरि यादव, प्रदीप गोप, कैलाश यादव, राजेश यादव, मनोज कुमार, रंजीत कुमार सिंह, बहादुर राम, मेघलाल महतो, कुमार रविदास, कृष्णा कुमार, रामचंद्र यादव आदि पारा शिक्षक उपस्थित रहे।