सुंदर पहाड़ी-धरमपुर पथ की जर्जर स्थिति में कराएं सुधार

– उपायुक्त ने नेशनल हाईवे के अभियंताओं को दिया निर्देश
गोड्ड : समाहरणालय स्थित सभागार में उपायुक्त भोर सिंह यादव एवं पुलिस अधीक्षक वाईएस रमेश के द्वारा संयुक्त रुप से टास्क फोर्स की समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। बैठक में सड़क सुरक्षा, खनन, विद्युत, सुरक्षा समिति एवं अन्य की समीक्षा की गई।
बैठक में खनन विभाग से संबंधित कार्य योजनाओं को लेकर चर्चा की गई। सड़क सुरक्षा को लेकर भी समीक्षा की गई। इस दौरान उपायुक्त ने जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिए कि वाहन चेकिंग के दौरान अब तक कितने राजस्व की वसूली की गई है इसकी विवरणी प्रस्तुत किए जाएं।
कहा कि सड़क सुरक्षा अभियान के तहत जिले में चेकिंग अभियान चलाएं जाए। वैध लाइसेंस नहीं होने पर यथोचित कार्यवाही की जाए। निरंतर विभिन्न जगहों पर चेकिंग की प्रक्रिया अपनाई जाए।
उपायुक्त श्री यादव ने सड़क सुरक्षा से संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में बनाए गए स्पीड ब्रेकरों की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें, जिसके अनुरूप स्पीड ब्रेकरों को सही रूप से बनाया जा सके। कहा कि वैसे जगहों को चिन्हित किया जाए, जहां पर दुर्घटनाएं की संभावनाएं अत्यधिक रहती हैं। उन जगहों पर साइनेज लगाई जाए।
उपायुक्त ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अवैध रूप से बिजली का उपयोग करने वाले लोगों को चिन्हित कर विभागीय कार्रवाई करें।
सुंदरपहाड़ी से धर्मपुर एवं महागामा से गोड्डा पथ को लेकर चर्चा की गई। उपायुक्त ने कहा कि सुंदरपहाड़ी से धर्मपुर रोड की स्थिति काफी जर्जर है। नेशनल हाईवे के अभियंताओं को निर्देश दिया गया कि संबंधित संवेदकों को सूचित कर रोड की स्थिति में सुधार लाएं । साथ ही संबंधित रोड की जांच हेतु एक टीम गठित कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए गए। अधिकारियों से कहा कि कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी महागामा जीतेंद्र कुमार देव, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गोड्डा आनंद मोहन सिंह, प्रभारी विकास शाखा पदाधिकारी मो एजाज आलम, जिला परिवहन पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार रजक, जिला खनन पदाधिकारी मेघलाल टुडू, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी अभय कुमार सहित संबंधित विभाग के अधिकारी एवं कर्मीगण मौजूद थे।