बरही में भावुक मन से मां दुर्गा की विदाई

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : बरही प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में प्रतिमा विसर्जन के साथ दुर्गा पूजा का त्यौहार श्रद्धा-भक्ति, हर्षोल्लास और शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। शुक्रवार को विजयादशमी का पर्व मनाया गया। इस मौके पर प्रखंड के धनबाद रोड़ पुराना दुर्गा मंदिर, नया दुर्गा मंदिर, गया रोड़ दुर्गा पूजा पंडाल, अफीम कोठी दुर्गा मंदिर, करियातपुर दुर्गा मंदिर, चतरो दुर्गा मंदिर, रसोइयाधमना दुर्गा मंदिर, गोरियाकरमा दुर्गा मंदिर, श्रीनगर दुर्गा मंदिर व बरसोत दुर्गा मंदिर सहित सभी दुर्गा मंदिरों व पूजा पंडालों में पूजा-अर्चना श्रद्धालुओं ने श्रद्धा भक्ति के साथ किया। नवरात्र में लोग आस्था के समुद्र में डूबे रहे। विधि व्यवस्था बनाए रखने व शांतिपूर्ण तरीके से दुर्गा पूजनोत्सव संपन्न कराने में प्रखंड व बरही अनुमंडल प्रशासन सक्रिय रही। विजयदशमी को ही शुक्रवार शाम में चतरो दुर्गा मंदिर, श्रीनगर दुर्गा मंदिर व बरसोत दुर्गा मंदिर के प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। वहीं शनिवार के दिन में रसोईया धमना, करियातपुर व गौरिया करमा में प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। सभी जगह ढोल बाजा के साथ प्रतिमा विसर्जन कार्यक्रम में श्रद्धालु भाग लिए। मां के विदाई के दौरान गया रोड बरही के दुर्गा पूजा मंदिर पंडाल सहित विभिन्न मंदिरों में मौजूद सभी सुहागन महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाते हुए सिंदूर खेल में भाग लिए। भक्तों ने भावुक मन से मां दुर्गा सहित अन्य प्रतिमाओं का विभिन्न सरोवरों व नदियों में शांतिपूर्ण जल प्रवाह किया। वहीं नम आंखों से विदाई देते हुए अगले वर्ष आने का न्यौता दिया। शनिवार संध्या समय समाचार लिखे जाने तक धनबाद रोड़ पुराना दुर्गा मंदिर, नया दुर्गा मंदिर, गया रोड़ दुर्गा पूजा पंडाल व अफीम कोठी दुर्गा मंदिर की प्रतिमाओं का विसर्जन कार्यक्रम जारी था। बरही शहर के उक्त पूजा पंडालों के प्रतिमाओं का विसर्जन जवाहर घाटी स्थित जलाशय में किया जाना है। प्रतिमा विसर्जन को लेकर शानदार शोभायात्रा निकाली गई है।