चक्रधरपुर के पुरानीबस्ती सीढ़ी छठ घाट की टूटी सीढियों पर नहीं गया ध्यान, रंगाई में खर्च हुए लाखों रुपए

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर।लोक आस्था का महापर्व छठ सोमवार से नहाय खाय के साथ शुरू हो गया है।छठ को लेकर संजय नदी के छठ घाटों की सफाई और रंगाई-पोताई का कार्य तेजी से हो रहा है। लेकिन पुरानीबस्ती सीढ़ी घाट पर स्थित छठ घाट दुर्घटना को आमंत्रित कर रहा है। छठ घाट का एक हिस्सा टूट गया है। नदी में बाढ़ आने के कारण छठ घाट के नीचे के हिस्से से मिट्टी निकल गयी है। सीढ़ी पर अधिक दबाव पड़ने से कभी भी दुर्घटना हो सकती है।बताया जाता है कि तीन साल पहले चैती छठ के दौरान संध्या समय पर अर्घ्य देने के दौरान छठ घाट टूट गया था। हालांकि उसमें किसी को चोट नहीं आई थी, लेकिन घाट टूट गया था।इस बार नदी में करीबन आठ से दस फीट पानी भरा है। घाट का निचला हिस्सा खोखला है।घाट के उपर भारी दबाव पड़ने से आशंका है की यह कभी भी टूट सकता है। इस पर प्रशासन और श्रीश्री केंद्रीय छठ पूजा समिति के सदस्यों को ध्यान देने की जरूरत है। इतना ही नहीं घाट के निचले हिस्सा की सीढ़ी पानी में डूबी हुई है। पानी रहने से वहां दलदल जम गया है। फिसलन के कारण कोई गिर भी सकता है इधर, गहरा पानी में कोई जाए नहीं उसके लिए प्रशासन की ओर से बेरिकेडिंग की जा रही है।लेकिन सीढ़ी के धंसने से दुर्घटना की आशंका बनी हुई है।उस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया तो कुछ भी अनहोनी होने की आशंका है।